एयरफोर्स डे पर बोले वायुसेना प्रमुख, ‘जरूरत पड़ने पर बेहद कम समय में युद्ध को तैयार’

वायुसेना दिवस के मौके पर वायुसेना कर्मियों को संबोधित करते हुए धनोआ ने कहा कि वायुसेना देश के सामने आने वाली किसी भी सुरक्षा चुनौती का सामना करने के लिए पूरी तरह तैयार है।

0

वायुसेना प्रमुख मार्शल बी.एस. धनोआ ने रविवार को कहा कि भारतीय वायु सेना (आईएएफ) युद्ध के लिए हर समय तैयार रहती है। धनोआ ने हिंडन वायु सैन्यअड्डे पर 85वें वायुसेना दिवस के मौके पर कहा, “हम अधिग्रहण, आधुनिकीकरण, स्वदेशीकरण के साथ शांति की इच्छा के बावजूद शॉर्ट नोटिस मिलने पर भी लड़ने के लिए तैयार है।” वायुसेना प्रमुख का कहना है कि शांतिकाल के समय नुकसान होना चिंता का कारण है। उन्होंने यह टिप्पणी अरुणाचल प्रदेश के हेलीकॉप्टर दुर्घटना में वायुसेना के पांच कर्मियों व दो सैन्य कर्मियों की मौत होने के दो दिन बाद की है। भारतीय वायुसेना का हेलीकॉप्टर एमआई-17 वी5 तवांग में भारत-चीन सीमा के पास छह अक्टूबर को दुर्घटनाग्रस्त हो गया था।

वायुसेना दिवस के मौके पर वायुसेना कर्मियों को संबोधित करते हुए धनोआ ने कहा कि वायुसेना देश के सामने आने वाली किसी भी सुरक्षा चुनौती का सामना करने के लिए पूरी तरह तैयार है। सुरक्षा परिदृश्य के बारे में बात करते हुये उन्होंने कहा, ‘‘हम संक्षिप्त नोटिस पर जंग के लिए तैयार हैं।’’ उन्होंने यह भी कहा कि वायुसेना बहुपक्षीय रणनीतिक क्षमताएं हासिल कर रही है और थल सेना तथा नौसेना के साथ मिलकर संयुक्त रूप से काम करने के लिए प्रतिबद्ध है।

धनोआ ने कहा कि पिछले साल पठानकोट में वायुसेना स्टेशन पर हुए आतंकी हमले को देखते हुए किसी भी चुनौती का सामना करने के लिए सभी वायुसैनिक अड्डों की सुरक्षा बढ़ा दी गई है। पिछले साल जनवरी में आतंकवादी सीमा पार कर भारत में घुस आए थे और उन्होंने वायुसेना स्टेशन पर हमला कर दिया था। इस दौरान सात सुरक्षार्किमयों की जान चली गई थी और चार आतंकवादी मारे गए थे।

You might also like More from author

Leave A Reply

Your email address will not be published.

http://wp.me/p8vtD7-2T2