अयोध्या में सरयू तट पर भगवान राम की सबसे बड़ी मूर्ति बनवाने की तैयारी में योगी सरकार

0

बीजेपी अयोध्या में भले ही राममंदिर बनाने सफल नहीं हो सकी, लेकिन योगी सरकार ने अयोध्या में भगवान राम की भव्य प्रतिमा लगाने का तैयारी की है. अयोध्या के सरयू नदी के तट के किनारे 100 मीटर ऊंची भगवान राम की एक बड़ी प्रतिमा लगाने की योजना योगी सरकार ने बनाई है. ‘नव्य अयोध्या’ योजना के तहत धार्मिक पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए योगी सरकार ने एक प्रस्ताव बनाकर राज्यपाल राम नाईक को भी दिखाया है.

नव्य अयोध्या परियोजना

उत्तर प्रदेश के राज्यपाल राम नाईक के समक्ष सोमवार को सूचना विभाग के प्रमुख सचिव अवनीश कुमार अवस्थी द्वारा दिये गये ‘नव्य अयोध्या’ परियोजना के प्रस्तुतीकरण में बताया गया कि अयोध्या को पर्यटन मानचित्र पर ऊभारने के लक्ष्य से सरयू तट पर भगवान राम की भव्य प्रतिमा का निर्माण पर्यटन विभाग कराएगा. इसके लिये राष्ट्रीय हरित प्राधिकरण (एनजीटी) से अनापत्ति प्रमाणपत्र प्राप्त लिया जाएगा.

सरयू के तट पर भगवान राम की प्रतिमा

उन्होंने बताया कि सरकार इसके अलावा रामकथा गैलरी, सरयू तट का विकास, ‘रानी हो’ के स्मारक घाटों का सुधार विशेषकर गुप्तार घाट, जहां भगवान राम ने जल समाधि ली थी, दिगम्बर अखाड़ा परिसर में बहुउद्देश्यीय प्रेक्षागृह का निर्माण, राम की पौड़ी, पर्यटकों के ठहरने के स्थल, सुरक्षा की दृष्टि से सीसीटीवी कैमरा, पुलिस बूथ, आवागमन के साधन सहित अन्य नागरिक सुविधायें जैसे शौचालय तथा जल निकासी की समुचित व्यवस्था करेगी.

अयोध्या में 195.89 करोड़ की परियोजना

अवस्थी ने बताया कि अयोध्या को एक प्रमुख पर्यटन क्षेत्र के रूप में विकसित करने के लिये पर्यटन मंत्रालय को 195.89 करोड़ रुपये की विस्तृत परियोजना रिपोर्ट (डीपीआर) भेजी गयी थी, जिसके सापेक्ष रूपये 133.70 करोड़ की धनराशि स्वीकृत कर राज्य सरकार को दी गई है.

अयोध्या 171000 दीपों से होगा रौशन

अवस्थी ने राज्यपाल को बताया कि आगामी 18 अक्तूबर को छोटी दीपावली पर अयोध्या में आयोजित होने वाले दीपोत्सव कार्यक्रम में राम की पौड़ी पर 1,71,000 दीप जलाये जाएंगे. दीपोत्सव कार्यक्रम में अयोध्या की हेरिटेज वॉक, भगवान राम के अयोध्या आगमन को दर्शाते हुए भव्य शोभा यात्रा, यात्रा के रामकथा पार्क आगमन पर पूजन-वन्दन तथा श्रीराम के प्रतीकात्मक राज्यभिषेक का आयोजन किया जायेगा.

मंत्रियों का लगेगा जमघट

सरयू नदी पर बने नए घाट पर राज्यपाल एवं मुख्यमंत्री द्वारा आरती की जाएगी तथा नदी तट पर लेजर शो आयोजित किया जाएगा. कार्यक्रम में इण्डोनेशिया और थाईलैण्ड के कलाकारों द्वारा रामलीला का मंचन भी किया जाएगा. इस कार्यक्रम में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, पर्यटन मंत्री रीता बहुगुणा जोशी, केन्द्रीय पर्यटन राज्यमंत्री एल्फांस कंननथानम तथा केन्द्रीय संस्कृति मंत्री महेश शर्मा सहित स्थानीय सांसद, विधायक एवं बड़ी संख्या में श्रद्धालुगण एवं पर्यटक सम्मिलित होंगे.

राज्यपाल ने की तारीफ

राज्यपाल ने पर्यटन विभाग के प्रस्तुतीकरण की सराहना करते हुए कहा कि अयोध्या को पर्यटन स्थल बनाने के मकसद से श्रद्धालुओं तथा पर्यटकों के लिये उच्चकोटि की सुविधाएं उपलब्ध कराई जाएं.

राज्यपाल और CM करेंगे योजनाओं का आगाज

राज्यपाल नाईक एवं मुख्यमंत्री योगी इस मौके पर अयोध्या के विकास से संबंधित योजनाओं का शिलान्यास, प्रधानमंत्री आवास योजना, नए बिजली कनेक्शन और अन्य योजनाओं के लाभार्थियों को स्वीकृति पत्र आदि का वितरण भी करेंगे.

You might also like More from author

Leave A Reply

Your email address will not be published.

https://wp.me/p8vtD7-2Vc